Pages

Friday, 9 March 2012

उत्तराखंड में सरकार गठन की भाजपा की कोशिशें शुरू


उत्तराखंड में सरकार गठन की भाजपा की कोशिशें शुरू

Wednesday, 07 March 2012 15:45
देहरादून, सात मार्च (एजेंसी) बहुमत से कम सीटें पाने के बावजूद सत्तारूढ़ भाजपा ने उत्तराखंड में सरकार गठन की कोशिशें तेज कर दी हैं।
भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने निर्दलीय और उत्तराखंड क्रांति दल के विधायकों से संपर्क साधने की कोशिशें शुरू कर दी हैं। 
निवर्तमान मुख्यमंत्री भुवनचंद्र खंडूरी ने कहा ''हम राजनीतिक स्थिति का आकलन कर रहे हैं । यदि पार्टी सोचती है कि सरकार बनाना उचित है तो हम निश्चित तौर पर इसकी दावेदारी पेश करेंगे । पार्टी के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह और अनंत कुमार यहां बातचीत कर रहे हैं । 
विधान सभा चुनावों के कल आए नतीजों में भाजपा को कांग्रेस को मिली 32 सीटों से एक कम मिली । भाजपा ने अपने नए विधायकों की बैठक भी बुलाई है । 
खंडूरी ने कहा ''हम नयी सरकार के गठन की बाबत अपने सभी विधायकों की राय भी लेंगे ।''
भाजपा ने यह कदम उस वक्त उठाया है जब कांग्रेस ने भी उत्तराखंड में नयी सरकार बनाने की कोशिशें तेज कर दी है । कांग्रेस को भाजपा को मिली 31 सीटों से सिर्फ एक ज्यादा हाथ लगी है । 
सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरने के बाद कांग्रेस के एक उच्च-स्तरीय प्रतिनिधिमंडल ने कल देर शाम राज्यपाल मार्ग्रेट अलवा से मुलाकात की और सरकार बनाने की दावेदारी पेश की । पार्टी सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस ने अपने विधायक दल की भी बैठक बुलायी है । 
इस बीच, कांग्रेस का एक उच्च-स्तरीय प्रतिनिधिमंडल चुनाव प्रभारी चौधरी वीरेंद्र सिंह की अगुवाई में नयी दिल्ली रवाना हुआ जहां आज पार्टी आलाकमान से सरकार गठन को लेकर चर्चा की जाएगी । 
विधान सभा की 70 सीटों के लिए हुए चुनाव के नतीजों में किसी भी पार्टी को सरकार बनाने के लिए जरूरी 36 सीटों का जादुई आंकड़ा नहीं मिल पाया । 
सबसे चौंकाने वाली बात तो यह रही कि मुख्यमंत्री बी.सी.खंडूरी कोटद्वार सीट से कांग्रेस उम्मीदवार एस.एस.नेगी के हाथों 4,632 मतों से हार गए । 
गौरतलब है कि खंडूरी ने अपनी पार्टी की ओर से ''खंडूरी है जरूरी'' मुहिम की अगुवाई की थी ।