Pages

Sunday, 19 February 2012

सच्चर कमिटी की सिफारिशों लागू करने के लिये प्रतिबद्ध: सोनिया



सच्चर कमिटी की सिफारिशों लागू करने के लिये प्रतिबद्ध: सोनिया

Sunday, 19 February 2012 19:07
अलीगढ़ : झांसी, 19 फरवरी (एजेंसी) कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उत्तर प्रदेश के चुनावी महासंग्राम में 'मुस्लिम कार्ड' खेला। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी मुसलमानों के सामाजिक, आर्थिक तथा शैक्षणिक स्तर के अध्ययन के लिये गठित सच्चर समिति की सिफारिशों को लागू करने के लिये प्रतिबद्ध है। सोनिया ने अलीगढ़ में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अपने सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल :रालोद: के साथ संयुक्त प्रचार अभियान की शुरुआत करते हुए कहा कि सच्चर समिति के गठन का मुख्य उद्देश्य इस बात को समझना था कि मुस्लिम अल्पसंख्यकों की किस तरह से मदद की जा सकती है और उनके सामाजिक तथा आर्थिक पिछड़ेपन को कैसे दूर किया जा सकता है।
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा ''हमारी पार्टी सच्चर समिति की सिफारिशों को लागू करने के लिये प्रतिबद्ध है।'' उन्होंने कहा कि केन््रद की संप्रग सरकार इस वक्त मुसलमानों को शैक्षणिक पिछड़ेपन के ठप्पे से मुक्त कराने पर खास जोर दे रही है।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस-राष्ट्रीय लोकदल गठबंधन का मुख्य उद्देश्य विधानसभा चुनाव के बाद ऐसी सरकार का गठन करना है जो उत्तर प्रदेश में विकास योजनाओं को बेहतर ढंग से लागू कर सके।
सोनिया ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय :एएमयू: के तराने का जिक्र करते हुए अलीगढ़ की जनता से प्रदेश में कांग्रेस-लोकदल को सत्ता में लाने में मदद करने के संदेश को पूरी दुनिया में फैलाने का आह्वान किया।
उन्होंने कहा कि देश में कुछ ऐसी पार्टियां हैं जो राष्ट्र के कल्याण के बारे में बातें करती हैं लेकिन दरअसल वे विभिन्न समुदायों के बीच नफरत फैलाती हैं। ऐसी पार्टियां राष्ट्र को कमजोर करने की दोषी हैं।
संयुक्त जनसभा में रालोद के अध्यक्ष अजित सिंह ने मुख्यमंत्री मायावती पर करारे प्रहार किये।
 
सिंह ने कहा कि करीब साढ़े चार साल तक मंत्रियों से भ्रष्टाचार कराकर काली कमाई का हिस्सा लेने वाली मुख्यमंत्री मायावती ने चुनाव से ऐन पहले अपने करीब 20 मंत्रियों को हटाकर खुद को पाक-साफ दिखाने की असफल कोशिश की है।
उन्होंने कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव में प्रदेश की जनता ने सपा के 'गुंडाराज' के खात्मे के लिये मायावती नीत बसपा को बहुमत दिया था, लेकिन वह अवाम की आकांक्षाओं पर खरा उतरने में बुरी तरह नाकाम रही हैं।
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुंदेलखण्ड के झांसी में आयोजित जनसभा में क्षेत्रवासियों के स्वाभिमान की दुहाई देते हुए कहा कि लोगों के अपने साथ हुए अन्याय का जवाब देने का समय आ गया है।
उन्होंने कहा कि केन््रद सरकार बुंदेलखण्ड के विकास के लिये हजारों करोड़ रुपए दिये हैं लेकिन प्रदेश की मायावती सरकार उस धन की बंदरबांट कर लेती है। क्षेत्र के लोगों को अन्याय करने वाली राज्य सरकार को मौजूदा विधानसभा चुनाव में सजा देनी चाहिये।