Pages

Sunday, 31 March 2013

राजनाथ सिंह की नयी टीम में मोदी को मिली जगह



Sunday, 31 March 2013 11:09
नयी दिल्ली । गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को राष्ट्रीय राजनीति में प्रमुख जगह देते हुये भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने अपनी नयी टीम का ऐलान किया।
भाजपा ने आगामी लोकसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुये आज अपनी 'टीम 2014' की घोषणा की जिसमें प्रधानमंत्री पद के प्रबल दावेदार माने जा रहे नरें्रद मोदी की छह साल बाद पार्टी की शीर्ष नीति निर्धारक इकाई संसदीय बोर्ड में वापसी हुयी है और कुछ नये युवा चेहरों को शामिल किया गया है। 
62 वर्षीय मोदी भाजपा शासित किसी राज्य के एकमात्र मौजूदा मुख्यमंत्री हैं जिन्हें पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने संसदीय बोर्ड में जगह दी है। मोदी को राजनाथ की अध्यक्षता वाली पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति में भी शामिल किया गया है।
दिलचस्प बात है कि इन्हीं राजनाथ सिंह ने अपने पहले अध्यक्षीय कार्यकाल में मोदी को संसदीय बोर्ड से हटा दिया था। लेकिन आज बदले हालात के बीच उन्हें मोदी को वापस लाना पड़ा।
राजनाथ की आज घोषित 76 सदस्यीय टीम में 12 उपाध्यक्ष, 10 महासचिव, 15 सचिव और सात प्रवक्ता हैं। इनके अलावा 12 सदस्यीय कें्रदीय संसदीय बोर्ड, 19 सदस्यीय कें्रदीय चुनाव समिति और पांच सदस्यीय कें्रदीय अनुशासन समिति भी इस टीम का हिस्सा हैं।
कयास था कि मोदी के साथ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भी संसदीय बोर्ड में जगह दी जायेगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। 
भाजपा की नयी टीम में शामिल प्रमुख नये चेहरों में मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती को उपाध्यक्ष और पीलीभीत से सांसद वरुण गांधी को महासचिव बनाया गया है।
नयी टीम में मोदी के विश्वासपात्र अमित शाह को भी महासचिव जैसा अहम पद दिया गया हैै। कथित अपराध सरगना सोहराबुद्दीन शेख की फर्जी मुठभेड़ की साजिश में सीबीआई द्वारा अभियुक्त बनाये जाने पर शाह को गुजरात के गृह मंÞत्री पद से हटना पड़ा था।
नेहरु गांधी परिवार के वरुण गांधी को खास तवज्जो देते हुये भाजपा की 'टीम 2014' में महासचिव बनाया गया है। अल्पसंख्यकों के विरुद्ध कथित भड़काउच्च् टिप्पणी करने के लिये कुछ दिन के लिये जेल भी जा चुके वरुण को उत्तर प्रदेश में चुनाव के दौरान उनकी भूमिका को देखते हुये महत्वपूर्ण स्थान दिया गया।  
वरुण को अहम स्थान देना कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी की काट की रूप में देखा जा रहा है। टीम की घोषणा होने के कुछ ही मिनट बाद हालांकि वरुण को महत्वपूर्ण स्थान दिये जाने के विरोध में पार्टी के भीतर स्वर उठने लगे। 
पार्टी नेता विनय कटियार ने कटाक्ष करते हुये कहा कि वरुण के आगे 'गांधी' लगा हुआ है शायद इसलिये उन्हें जरुरत से ज्यादा महत्व दिया गया है। 
पार्टी नेतृत्व के खिलाफ अक्सर बागÞी तेवर अपनाने वाले यशवंत सिन्हा को इस बार टीम में जगह नहीं दी गयी। अब तक भाजपा के मुख्य प्रवक्ता रहे रविशंकर प्रसाद को भी टीम में जगह नहीं मिली है। हालांकि इसके पीछे तर्क दिया जा रहा है कि वह राज्यसभा में पार्टी के उपनेता हैं और 'एक व्यक्ति एक पद' के तहत ऐसा किया गया है। 
पुरानी टीम में उपाध्यक्ष की भूमिका में शामिल नजमा हेपतुल्ला, हेमा मालिनी और शांता कुमार और महासचिव रहीं वसुंधरा राजे को इस टीम में शामिल नहीं किया गया है।
गुजरात से राज्यसभा सदस्य और मोदी की करीबी मानी जाने वालीं स्मृति ईरानी उपाध्यक्ष की नयी भूमिका में होंगी। कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सदानंद गौड़ा को भी उपाध्यक्ष बनाया गया है वहीं राजीव प्रताप रूढ़ी को महासचिव बनाया गया है।
दुर्ग से लोकसभा सदस्य सरोज पांडेय भाजपा महिला मोर्चा की कमान संभालेंगी और स्मृति ईरानी की जगह लेंगी। अनुराग ठाकुर पहले की तरह भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष बने रहेंगे।
प्रवक्ताओं की टीम में जहां प्रकाश जावड़ेकर, शाहनवाज हुसैन और निर्मला सीतारमण बने रहेंगे वहीं विजय सोनकर शास्त्री, सुधांशु त्रिवेदी, मीनाक्षी लेखी और कैप्टन अभिमन्यु नये प्रवक्ता होंगे।
दिवंगत भाजपा नेता प्रमोद महाजन की बेटी पूनम महाजन को भी राजनाथ की नयी टीम में शामिल कर सचिव बनाया गया है वहीं पंजाब के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री लक्ष्मीकांत चावला को उपाध्यक्ष बनाया गया है।
राज्यसभा में भाजपा के उपनेता की प्रभावी भूमिका निभा चुके एस एस अहलूवालिया अब पार्टी उपाध्यक्ष के किरदार में दिखाई देंगे।
भाजपा की नयी टीम में महिलाओं का प्रतिनिधित्व बढ़ाने का प्रयास किया गया है वहीं उपाध्यक्ष के तौर पर जुएल ओरांव और सचिव के तौर पर झारखंड से लुइस मरांडी को शामिल कर आदिवासी चेहरों को शामिल करने की जुगत की गयी है।
शीर्ष नीति निर्धारक 12 सदस्यीय केंद्रीय संसदीय बोर्ड के प्रमुख जहां राजनाथ होंगे वहीं इसमें सदस्यों के तौर पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, एम वेंकैया नायडू, नितिन गडकरी, सुषमा स्वराज, अरुण जेटली, अनंत कुमार, थावर चंद गहलोत और रामलाल हैं और आज इसमें मोदी भी शामिल हो गये।
इन सभी शीर्ष नेताओं के साथ गोपीनाथ मुंडे, जुएल ओरांव, शाहनवाज हुसैन, विनय कटियार, जेपी नडढा और डॉ हर्षवर्धन को पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति के सदस्य के तौर पर शामिल किया गया है।
महिला मोर्चा की अध्यक्ष सरोज पांडेय समिति की पदेन सदस्य हैं।
पार्टी के नये उपाध्यक्षों में सीपी ठाकुर, बलबीर पुंज, सतपाल मलिक, प्रभात झा, बिजया चक्रवर्ती और किरण माहेश्वरी हैं। अनंत कुमार, थावर चंद गहलोत, नड्ढा, धर्मेंद्र प्रधान, तापिर गाव, मुरलीधर राव और रामलाल महासचिवों की टीम में रहेंगे। रामलाल पहले की तरह पार्टी के संगठन महामंत्री की भूमिका निभाते रहेंगे।