Pages

Sunday, 24 February 2013

कश्मीर का इतिहास भूगोल फिर से लिखेगा

कश्मीर का इतिहास भूगोल फिर से लिखेगा

♦ हिमांशु कुमार
A Kashmiri muslim boyपूछा था, पंडितों से भी यही पूछा था मैंने। उन्होंने बताया कि जगमोहन जब गवर्नर थे तब सरकार ने कहा था कि हिंदू पंडित घाटी छोड़ कर बाहर आ जायें। फिर सरकार घाटी में बड़ी सैन्य कार्यवाही करेगी।
लगता था कि जैसे भारत सरकार को मुसलमानों के मरने से तो कोई मतलब था ही नहीं और हिंदुओं के प्रति उसने अपनी चिंता दिखलाने के लिये उन्हें घाटी से बाहर निकलने का हुक्म दिया।
उसके बाद जो हुआ उसका जवाब अभी इतिहास तैयार कर रहा है। अभी उस जवाब का लिखा जाना बाकी है। सेक्स ट्रेड में लगे हुए हमारे फौजी, उनके बूटों के तले सिसकती हुई कश्मीरी लड़कियां और उबलते खून वाले कश्मीरी नौजवानों के खून से इतिहास की आखिरी किश्त अभी लिखी जानी बाकी है।
यह इतिहास भूगोल को भी फिर से लिखेगा। अंग्रेजों का भूगोल अंतिम कैसे माना जा सकता है? बंदूकों के दम पर एक समुदाय दूसरे समुदाय पर लंबे समय तक राज कहां कर पाया है दुनिया में?
http://mohallalive.com/2013/02/22/himanshu-kumar-on-struggle-of-kashmir/