Pages

Saturday, 7 January 2012

आचार संहिता तोड़ने पर कांग्रेस प्रत्‍याशी गिरफ्तार, उल्‍लंघन के कई मामले दर्ज

आचार संहिता तोड़ने पर कांग्रेस प्रत्‍याशी गिरफ्तार, उल्‍लंघन के कई मामले दर्ज


: नसीमुद्दीन और स्‍वामी प्रसाद मौर्य पर भी आरोप : पाँच प्रदेशों में चुनाव की घोषणा के साथ ही आचार संहिता के उल्लंघन के मामले सामने आने लगे हैं. ताजा किस्सा यूपी का है, जहां मायावती सरकार के दो मंत्रियों पर चुनाव आचार संहिता तोड़ने का आरोप लगा है. मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी और स्वास्थ्य मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य शुक्रवार को चुनाव आयोग की टीम से मिलने लाल बत्ती लगी सरकारी गाड़ी से पहुंच गए, जिसकी शिकायत विपक्ष ने मुख्य चुनाव आयुक्त से कर दी. प्रदेश में चुनाव से पहले आचार संहिता उल्लंघन के मामले में कांग्रेस के एक प्रत्याशी को गिरफ्तार किया गया है. जौनपुर में आचार संहिता के उल्लंघन में कांग्रेस प्रत्याशी बीएल वर्मा को गिरफ्तार किया गया है.
यूपी में आचार संहिता को तोड़ने को लेकर यह पहली गिरफ्तारी है. जौनपुर के मुंगरा बादशाहपुर के कांग्रेस प्रत्‍याशी को धरना देते समय गिरफ्तार किया गया है. वही दूसरी तरफ चुनाव आचार संहिता के मुताबिक चुनाव तारीखों के एलान के बाद मंत्री के लाल बत्ती लगी गाड़ी और किसी राजनैतिक काम के लिए भी सरकारी गाड़ी के इस्तेमाल पर पाबंदी होती है, पर माया सरकार के दोनों मंत्रियों ने लालबत्‍ती लगी गाड़ी का इस्‍तेमाल किया.
उधर, आचार संहिता के उल्लंघन में सोनभद्र जिले में पुलिस ने एक मारूति वैन को सीज किया और उसके चारों सवारों को गिरफ्तार कर लिया. तलाशी में गाड़ी से नेशनल लोकतांत्रिक पार्टी का झंडा व पोस्टर बरामद हुआ. गाड़ी चालक के पास वाहन के कागजात भी नहीं थे. पकड़े गए सभी व्यक्तियों के खिलाफ धारा 123(1) जन प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 के तहत कार्रवाई की गई, और बाद में उन्हें निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया.
आचार संहिता को लेकर सियासत में भी आंख मिचौली चल रही है. एक ओर आचार संहिता के नाम पर एक प्रत्याशी के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया जा रहा है वहीं कुछ प्रत्याशी तथा उनके समर्थक आचार संहिता की खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं. चुनाव आयोग के नियमों का पालन करने का प्रशासनिक दावा खोखला साबित हो रहा है. सूत्रों के अनुसार प्रशासन बैनर, पोस्टर तथा होर्डिंग लगाने को ही आचार संहिता के उलंघन के दायरे में मानता है, जबकि क्षेत्र में कई ऐसे प्रत्याशी हैं जो खुलेआम आचार संहिता की धज्जियां उड़ा रहे हैं।
http://bhadas4media.com/vividh/1678-2012-01-07-08-10-16.html